प्रतिकार शक्ति वर्धक आहार योजना : 100 % फ्री इ-बुक > आरोग्य लाये, ऊर्जा बढ़ाये

100% फ्री इ-बुक

3 सप्ताह की

प्रतिकार शक्ति वर्धक

आहार योजना

फॉर्म भरे और फ्री इबुक को अभी प्राप्त करें !

फॉर्म एक >> डाउनलोड अनेक

फॉर्म भरे और सभी फ्री उपहारों (इबुक, वीडियो और ऑडियो) को अभी डाउनलोड करें !

Name
WhatsApp Number*
E-mail:

इस आहार योजना के लाभ

शुद्धिकरण और

बेहतर पाचनक्रिया

इस आहार योजना से शरीर का शुद्धिकरण होता है और पाचन शक्ति बढ़ती है।

बेहतर ऊर्जा और 

बेहतर विकास 

शारीरिक और मानसिक एनर्जी बढ़ती है।

बच्चों के मस्तिष्क और शरीर का विकास सर्वोत्तम होता है।

मेमरी और एकाग्रता भी बढ़ती है।

नॉर्मल वज़न

अनावश्यक चर्बी कम होने की वजह से मोटापा कम होने लगता है।

स्नायुओं का विकास होने की वजह से दुबले लोगों का वज़न बढ़ने लगता है।

हीलिंग बूस्टर

हीलिंग ब्लॉकेज दूर होने में सहायता मिलती है और अन्य चिकित्सा पद्धति और दवाई से ठीक होने की संभावना और गति बढ़ती है।

रोग मुक्ति

इस आहार योजना से प्रतिकार शक्ति बढ़ती है। इसलिए अनेक कम तीव्रता के सामान्य रोगों से मुक्ति पाने सहायता मिलती है।

सुरक्षा, प्रतिरोध &

कम दवाई खर्च

रोग प्रतिरोधक क्षमता और कीटाणुओं से सुरक्षा बढ़ती है। इसलिए बीमार होने की संभावना कम हो जाती है।

और दवाई पर होने वाला खर्च भी कम होने लगता है।

प्रतिकार शक्ति क्या है ?

इस विश्व में सिर्फ एक उपचारक तत्व है और वह हमारे भीतर है।

जी हाँ, हमारे भीतर एक महाशक्तिशाली उपचारक और रक्षक तत्व है।

इसे अनेक नाम से जाना जाता है, जैसे-

  • प्रतिकार शक्ति
  • आंतरिक उपचारक
  • आंतरिक उपचारक तत्व
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता
  • जीवन शक्ति / आत्म शक्ति, आदि। 

यह आंतरिक उपचारक तत्व, अनंत प्रज्ञा और अनंत शक्ति का खजाना है।

माँ के गर्भ में, एक सूक्ष्म पेशी में से हमारे संपूर्ण शरीर का निर्माण इसी अनंत प्रज्ञा द्वारा हुआ है! जो निर्माण कर सकता है वह उपचार भी कर सकता है!

अगर आंतरिक उपचारक तत्व सशक्त है, तो वह सभी प्रकार की बीमारियों से हमारी रक्षा करता है और बीमारी आने पर उसे जल्दी से ठीक भी करता है।

कमजोर प्रतिकार शक्ति

रोगों का मुख्य कारण

आज कल कीटाणु से होनेवाले और अन्य रोग बढ़ते जा रहे हैं। अधिकतर लोग वातावरण और खाने पीने के कीटाणु, वातावरण के केमिकल या अन्य बाहरी घटकों को इसका कारण मानते हैं।

लेकिन यह अर्ध-सत्य हैं।

एक ही तरह के वातावरण में रहने वाले और एक जैसा बाहर का खाना खाने वाले अनेक लोगों से सिर्फ कुछ लोग बीमार पड़ते है।

ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि कीटाणु जन्य रोगों का मुख्य कारण कीटाणु या बाहरी घटक नहीं, लेकिन कमजोर आंतरिक उपचारक हैं।

अगर हमारी आंतरिक उपचारक सशक्त है, तो वह हर तरह के कीटाणु और बीमारी से हमारी रक्षा करती है।

रोग और इलाज की दर्दनाक यातनाओं से बचना है, तो हमारे आंतरिक उपचारक तत्व को सशक्त बनाना आवश्यक है।

100% फ्री इ-बुक

सुपर स्वस्थ बच्चों की

7 आदतें

फॉर्म भरे और फ्री इबुक को अभी प्राप्त करें !

100% फ्री इ-बुक

स्मरणशक्ति

बढ़ाने के 5 अचूक तरीके

फॉर्म भरे और फ्री इबुक को अभी प्राप्त करें !

100% फ्री इ-बुक

स्वस्थ बच्चों

सबसे बड़ा रहस्य

फॉर्म भरे और फ्री इबुक को अभी प्राप्त करें !

FREE ENGLISH EBOOK

Healthy Weight Loss

Success Secret

To Download Ebook Submit The Form

फ्री परिचय इ-बुक

आंतरिक उपचार

4 स्टेप होमियोपैथी ट्रीटमेंट

फॉर्म भरे और फ्री इबुक को अभी प्राप्त करें !

फ्री वीडियो

विद्यार्थियों माइंड रिसेट

परीक्षा में सफलता पाने के लिए..

(हिंदी, मराठी और इंग्लिश में)

फॉर्म भरे और फ्री वीडियो को अभी प्राप्त करें !

फ्री ऑडियो

नकारात्मक

भावना मुक्ति

ध्यान

फॉर्म भरे और फ्री ऑडियो को अभी प्राप्त करें !

आहार एक श्रेष्ठ दवा है।

आहार को ही दवा बना लो,

वरना दवा आहार बन जायेगी !

-: हिप्पोक्रेट्स :–

The Man Behind The Mission

Ashish_Profile pic_Brown_R_500x500

Dr. Ashish L. Thakkar

Health Educator and Researcher

Homoeopath | Speaker | Author

पिछले 18 सालों में, होमियोपैथ की भूमिका में, आपने अपने हजारों मरीजों को पुराने और पीड़ादायक रोगों से मुक्त किया है और अनेको को ऑपरेशन से भी बचाया है।

आप खुद को और अपने बच्चों को 17 सालों से बिना किसी दवाई के स्वस्थ रखने में सफल रहे हैं।

Sharing is Caring !